Education

छात्रा के जज्बे को देख आप भी अपने आप को नहीं रोक पाएंगे उसकी तारीफ करने से, कर रही है ऐसा बड़ा काम…

जब किसी विद्यार्थी में पढ़ने कि ललक होती है और वो कुछ कर गुजरने कि मन में ठान लेता है तो फिर उसके सामने सभी कठिनाईयां बोनी साबित हो जाती है। ऐसा ही कर दिखाया है मध्यप्रदेश के छतरपुर जिले की रहने वाली एक छात्रा ने जिसने हाथ न होने के बावजूद भी 12वीं कक्षा पास कर ली और अब वो बीए प्रथम वर्ष कि परीक्षा दे रही है।

लेकिन फिर भी ममता के मन में पढ़ाई का ऐसा जज्बा है कि उसने स्कूल की पढ़ाई पैर से लिख कर पूरी की। ममता ने पैर से लिख अब तक 12वीं कक्षा उर्तीण करली है और अब वो छतरपुर के प्रतिष्ठित महाराजा महाविद्यालय से बीए प्रथम वर्ष की परीक्षा दे रही है। वह अपने बाएं पैर से लिखती है।

जानकारों कि माने तो ममता मध्यप्रदेश के छतरपुर जिले राजनगर तहसील के तिलवांपरा गांव कि रहने वाली है और उसके पिता किसानी का काम करते है। ममता के एक बड़ा और एक छोटा भाई है।

ममता ने कभी भी अपनी इस समस्यां को अपने उपर हावी नहीं होने दिया और उसने बचपन से ही पैर से लिखने का अभ्यास किया जिसका ये फल है कि वो लगातार आगे बढ़ती जा रही है और एक अच्छी नौकरी करना चाहती है।

वैसे ऐसे विद्यार्थियों के लिए हमेशा सरकारें भी आगे आती है और उनकी हरसंभव मदद करती है। इनके अलावा स्कूल और काॅलेजों में भी ऐसे बच्चों के लिए शिक्षक भी पूर्ण सहयोग करते है, जिससे की बच्चे को आगे बढ़ने का अवसर मिले।

Please follow and like us:

Leave a Reply