Bhopal Health

नौतपे में प्रदेश बेहाल, अभी और तपेगा शहर, काम दबाव के कारण कई जगह छुटपुट बारिश।

मध्य प्रदेश में नौतपा के पांचवें दिन सूरज ने अपने तेवर दिखाए इसके पहले मंगलवार को तेज धूप से तापमान 42 डिग्री पर पहुंच गया। दोपहर में हल्के बादल भी छाए। अंचल में हवा का रुख बढ़ने लगा। इससे शाम को गरोठ, सीतामऊ क्षेत्र के कई गांवों में बारिश हुई। हल्की बरसात ने हवा तो ठंडी कर दी लेकिन उमस बढ़ा दी। मौसम वैज्ञानिक के अनुसार बिहार, बंगाल की ओर से आने वाली तेज हवा से यहां बन रही गर्म वैक्यूम के मिलने से बादल बन गए। इससे छिटपुट बरसात हुई। एक-दो दिन इस तरह के हालात बने रहेंगे।
नवतपा के चौथे दिन भी सुबह से शहर सहित अंचल में गर्मी का असर रहा। सुबह 8 बजे से सूरज अपने तेवर दिखाने लगा। दोपहर में लू के थपेड़े चलते रहे। तपन इतनी अधिक थी कि लोगों का घर से बाहर निकलना भी मुश्किल हो रहा था। दोपहर में अचानक बादल छाने लगे। इससे तेज धूप से लोगों को कुछ राहत मिली लेकिन गर्मी में कोई कमी नहीं हुई। तापमान करीब 42 डिग्री तक पहुंच गया। शाम को गरोठ व सीतामऊ के ग्रामीण क्षेत्रों में बूंदाबांदी हुई। इससे हवा थोड़ी ठंडी हुई लेकिन जमीन से निकलने वाली गर्मी ने उमस बढ़ा दी। इसने लोगों की रात की परेशानी भी बढ़ा दी।

मौसम वैज्ञानिक डॉ. एसएन मिश्रा ने बताया नवतपा में लगातार तापमान 42 से 43 डिग्री के बीच होने से धरती गर्म हो गई है। इससे हवा भाप बनकर आसमान में ठंडे स्थान पर पहुंच जाती है। बिहार, बंगाल की ओर से आने वाली तेज हवाएं मिलने से लोकल क्लाउड बना। वायुमंडलीय दाब कम होकर वैक्यूम बन जाता है। हवाओं के मूवमेंट से बनने वाले वैक्यूम से धूल भरी आंधी चलने लगती है। बादल छाने से छिटपुट बारिश होती है। हवा ठंडी हाेकर फिलहाल 16 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चल रही है। जो दो दिनों बाद 20 किमी प्रति घंटे की रफ्तार तक जा सकती है। बादल छंटने के बाद अगले एक सप्ताह तक तापमान 43 डिग्री तक रहेगा। इससे लू का प्रकोप बढ़ेगा, लोगों को लू के थपेड़ों से बचने के उपाय अपनाने होंगे

Please follow and like us:

Leave a Reply