Economy International

गूगल करेगा बिजनेस इंटेलिजेंस प्लेटफॉर्म लुकर के अधिग्रहण के लिए 2.5 अरब डॉलर का भुगतान

गूगल ने बिजनेस इंटेलीजेंस प्लेटफॉर्म लुकर को 2.6 अरब डॉलर लगभग 17940 करोड़ रुपए में खरीदने का प्रस्ताव जारी किया है.। इस डील के जरिए गूगल अपने क्लाउड कंप्यूटिंग डिवीजन को मजबूत बनाना चाहती है ताकि ग्राहकों को बेहतर डेटा एनालिसिस सेवाएं दे पाए।

गूगल क्लाउड के सीईओ थॉमस कुरियन के ज्वॉइन करने के बाद यह गूगल का पहला बड़ा अधिग्रहण है। कुरियन पिछले साल गूगल से जुड़े थे। डील को लेकर उनका कहना है कि गूगल क्लाउड और लुकर के कॉम्बिनेशन से ग्राहकों के लिए डेटा के इस्तेमाल का तरीका बेहतर बनेगा।

लुकर की शुरुआत 2012 में हुई थी। इसका मकसद ऐसा प्लेटफॉर्म उपलब्ध करवाना था जो किसी कारोबार के पूरे डेटा का आसानी से एकीकरण कर सके। गूगल द्वारा लुकर का अधिग्रहण इस साल के आखिर तक पूरा होने की उम्मीद है।

अमेजन और माइक्रोसॉफ्ट प्रमुख क्लाउड कंप्यूटिंग की प्रमुख कंपनियां हैं। अमेजन वेब सर्विसेज का रेवेन्यू 2018 में 25 अरब डॉलर से ज्यादा रहा था। गूगल की परेंट कंपनी अल्फाबेट ने क्लाउड रेवेन्यू के आंकड़े जारी नहीं किए।

Please follow and like us:

Leave a Reply