Education Education Achievement

अच्छी खबर : मप्र में कौशल विकास के लिए विश्वविद्यालय खोला जायेगा, शिक्षा मंत्री।

उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी ने भोपाल में शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया प्रदेश में नॉलेज कमीशन और कौशल विकास विश्वविद्यालय का गठन किया जाएगा और मप्र ऐसा करने वाला देश का पहला राज्य होगा।

प्रदेश के कॉलेजों में 10 जून से प्रवेश प्रक्रिया शुरू होगी। इसके लिए उच्च शिक्षा विभाग ने पोर्टल तैयार किया है। इस पर एडमिशन से जुड़ी हर जानकारी को अपडेट किया गया है। एडमिशन एमपी ऑनलाइन के माध्यम से होगा। इसके लिए 50 रुपए फीस देनी होगी। इससे ज्यादा लेने पर एमपी ऑनलाइन ऑपरेटर पर कार्रवाई होगी।
ये जानकारी दी। उन्होंने बताया कि 10 जून से स्नातक और 15 जून से स्नातकोत्तर में प्रवेश प्रक्रिया शुरू होगी। इसके पोर्टल में 1250 कॉलेजों को रखा गया है। मंत्री जीतू पटवारी ने इस शिक्षा सत्र से प्रदेश के विद्यार्थियों को सरल और सस्ती शिक्षा मिलेगी।

मंत्री जीतू पटवारी ने बताया कि गरीबी रेखा में आने वाले हर विद्यार्थी को 2000 रुपये तक की किताबें मुफ्त दी जाएंगी। अब तक सिर्फ एससी-एसटी विद्यार्थियों को ही नि:शुल्क किताबें दी जाती थी। अब सामान्य और ओबीसी के छात्रों को भी ये सुविधा उच्च शिक्षा विभाग देगा। देश के पहले कौशल विकास विश्वविद्यालय का गठन किया जाएगा। मंत्री पटवारी ने बताया कि प्रदेश में नॉलेज कमीशन का गठन होगा। इंदौर, उज्जैन, छिंदवाड़ा, जबलपुर, सागर, ग्वालियर, झाबुआ, खरगोन और रीवा में एक्सीलेंस कॉलेज खोले जाएंगे। ये भोपाल के एक्सीलेंस कॉलेज की तर्ज पर होंगे।

Please follow and like us:

Leave a Reply